Saturday, April 2, 2011

क्या करूँ ?

दिल ने कहा चुप रहा कर,
दिमाग ने कहा बोल दे...




पलकों ने कहा आँसू मत बहा,
आँखों ने कहा रो दे...




तकदीर ने कहा आराम से बैठ,
किस्मत ने कहा लड़ाई कर ...




ज़िन्दगी ने कहा आगे बढ़,
हकीकत ने कहा लड़ाई कर...




कदमों ने कहा पलट जा,
रास्ते ने कहा आगे बढ़...




प्यार ने कहा भरोसा कर,
दोस्ती ने कहा, "भरोसा है"...




अब किसकी सुनूँ और किसकी बात मानूँ,
 ऐ दोस्त ! कोई तो बताओ के अब मैं क्या करूँ ?

2 comments:

  1. some point are really good yar...... keep it up........................

    ReplyDelete